Loading...

  • ८१ - हनुमान जी का सीताजी से संवाद

    * नर बानरहि संग कहु कैसें। कही कथा भइ संगति जैसें॥6॥

    भावार्थ:-(सीताजी ने पूछा-) नर और वानर का संग कहो कैसे हुआ? तब हनुमानजी ने जैसे संग हुआ था, वह सब कथा कही॥6॥

    |0|0
Krishna Kutumb
ब्लॉग सूची 0 0 प्रवेश
Open In App