Loading...

  • श्री कृष्णा भगवान ने अर्जुन से कहा

    मयाध्यक्षेण प्रकृतिः सूयते सचराचरम् ।
    हेतुनानेन कौन्तेय जगद्विपरिवर्तते ॥९- १०॥

    हे अर्जुन! मुझ अधिष्ठाता के सकाश से प्रकृति चराचर सहित सर्वजगत को रचती है और इस हेतु से ही यह संसारचक्र घूम रहा है॥10॥

    |0|0
Krishna Kutumb
ब्लॉग सूची 0 0 प्रवेश