Loading...

  • श्री कृष्णा भगवान ने अर्जुन से कहा

    इति गुह्यतमं शास्त्र-
    मिदमुक्तं मयानघ ।
    एतद् बुद्ध्वा बुद्धिमान्-
    स्यात्कृतकृत्यश्च भारत ॥१५- २०॥

    हे निष्पाप अर्जुन! इस प्रकार यह अति रहस्ययुक्त गोपनीय शास्त्र मेरे द्वारा कहा गया, इसको तत्त्व से जानकर मनुष्य ज्ञानवान और कृतार्थ हो जाता है॥20॥

    |0|0