Loading...

Sachit Kathir

हिन्दुत्व का भविस्य क्या है ?

आपके अनुसार हिंदुत्व कब तक रहेगा क्या हैं अपने धरम को बचा पाएंगे

|6|1
  • Shiv DasDevotee

    |3|1|0

    जिसका जन्म होता है उसी की मृत्यु होती है।हिंदुत्व का जन्म ही नहीं हुआ तो अंत कैसे हो सकता है।सत्य ही धर्म है ।सत्य बनाये नहीं जाते ढूंढे जाते हैं अर्थात वो पहले से मौजूद होते हैं।परमात्मा ही सत्य हैं और सत्य ही धर्म।कृष्ण कहते हैं

    यदा यदा हि धर्मस्य ग्लानिर्भवति भारत।

    अभ्युत्थानमधर्मस्य तदात्मानं सृजाम्यहम्॥ ७॥

    हे भरतवंशी अर्जुन! जब-जब धर्मकी हानि (और) अधर्मकी वृद्धि होती है, तब-तब ही मैं अपने-आपको (साकाररूपसे) प्रकट करता हूँ।।

    परित्राणाय साधूनां विनाशाय च दुष्कृताम्।

    धर्मसंस्थापनार्थाय सम्भवामि युगे युगे॥ ८॥

    साधुओं (भक्तों)-की रक्षा करनेके लिये, पापकर्म करनेवालोंका विनाश करनेके लियेऔर धर्मकी भलीभाँति स्थापना करनेके लिये (मैं)युग-युगमें प्रकट हुआ करता हूँ। अर्थात कृष्ण जी भी धर्म बनाते नहीं बल्कि उनकी पुनःस्थापना करते हैं हिन्दू धर्म कृष्ण जी का स्वरूप है इन्हें किसी ने कभी नहीं बनाया इसलिए इनका नाश कभी नहीं होगा।।

    हमारे धर्म की जब बहुत ज्यादा कमी होगी तब स्वयं कृष्ण कल्कि रूप में धर्म की अच्छी तरह से स्थापना करने के लिए अवतरित होंगे।इसलिए आप चिंता मत कीजिये और कल्की अवतार में अभी बहुत समय शेष है क्योंकि यह तो कलियुग के आरंभ है कल्कि अवतार कलियुग के अंतिम चरण में होगा इसलिए हमारा धर्म का इतना जल्दी ह्रास भी नहीं होने वाला।जय श्रीकृष्ण ।शिव शिव शिव ...