Loading...

जब मन अशांत हो और दुनिया के दुःख देख कर कुछ भी निर्णय न ले पाऊ तो क्या करू?

अपना उत्तर यहाँ लिखें
  • Preetam Joshi

    ईश्वर का नाम लिखना।

  • शिव दास

    1. किसी स्थान पर आंख बंद कर बैठ जाइए और अपनी कमी ढूंढिए वो कारण ढूंढिए जिसके कारण आप परेशान हैं या असफल हो रहे हैं।

    2. यदि मन की अशांति का कारण सांसारिक मनुष्यों के प्रति मोह है तो गीता पढ़िए और जो पढ़ें उस पर चिंतन कीजिये।

    3. परमात्मा का नाम जपिये ।

    4. अपना समस्या अपने आराध्य को बताइये थोड़ा उनसे बात कीजिये मन हल्का हो जाएगा।

    आप जैसे जैसे अपने आराध्य से बात , उनका नाम जप इत्यादि में उतरते जाएंगे आपको आपके आराध्य भगवान नही अपने से लगेंगे आप अपना दुख सुख अच्छाई बुराई सब उन्हें बताएंगे आप उनके ज्यादा समीप जाते जाएंगे। आपका मन इससे निर्मल होगा बाद में आपको आपके आराध्य जब आप उनसे बात करेंगे तो मुस्कुराते नजर आएंगे। कुछ गलत निर्णय लेंगे तो वे हल्के दुखी नजर आएंगे। वे और समय बीतने के पश्चात अपने सपने में आना शुरू कर देंगे। शिव शिव शिव

Other Posts

Krishna Kutumb
ब्लॉग सूची 0 0 प्रवेश
Open In App