Loading...

Ratnesh Kumar Sahu

ॐ जप श्रेष्ठ है या शिव (कृपया सभी प्रश्नों के उत्तर दें।)

ॐ जप श्रेष्ठ है या शिव, राम जप?

शिव नाम जप तथा ॐ नाम जप से बुद्धि में क्या प्रभाव पड़ता है ?

क्या दोनों का जप समान फलदायी है ? हाँ तो कैसे? और ना तो क्यूँ?

Download Image
|0|0
  • Ratnesh Kumar Sahu

    |0|0|0

    ॐ जप श्रेष्ठ है या शिव, राम जप?

    जिनमें आपका श्रद्धा और प्रेम अधिक है वही नाम या स्वरूप जपना श्रेष्ठ है।

    Download Image

    शिव नाम जप तथा ॐ नाम जप से बुद्धि में क्या प्रभाव पड़ता है ?

    शिव नाम जप से आनंदमय जीवन हो जाता है आपमें सहनशीलता का विकास होता है तथा अनंत लाभ इनके जप से होते हैं।

    ॐ जप आपके बुद्धि को जागृत करता है इससे आपपर माया का प्रभाव कम होता है। इनके भी लाभ अनंत हैं।

    दोनों के ही जप से मोक्ष और अनंत सिद्धियां प्राप्त होते हैं। वास्तव में नाम जप या स्वरूप जप की महिमा का गुणगान नही किया जा सकता।

    Download Image

    क्या दोनों का जप समान फलदायी है ? हाँ तो कैसे? और ना तो क्यूँ?

    हाँ दोनों का जप समान फलदायी है।

    क्योंकि एक (शिव) परमात्मा का नाम है तो दूसरा (ॐ) परमात्मा का स्वरूप दोनों का जप उनका स्मरण कराता है दोनों के जप से वे प्रसन्न होते हैं।

    किन्तु फल आपके श्रद्धा और प्रेम पर निर्भर करता है ।

    शिव शिव शिव...

    Download Image