Loading...

  • Bhagwad Geeta ki mahima

    शिव दास

    एक बार माँ पार्वती ने परम पिता शिव से पूछा कि आप चिता की भस्म धारण करते हैं, शमशान में वास करते हैं, नरमुंड की माला धारण करते हैं, भूत प्रेत आपके साथ रहते हैं, इनमें से कुछ कर्म पवित्र नहीं तो फिर आप कैसे सदैव पवित्र रहते हैं? में आपके पवित्रता का भेद जानना चाहती हूँ। शिव जी बोले की ये भगवद गीता का ज्ञान है जिसे में सदैव ह्रदय में धारण करता हूँ अर्थात स्मरण करता हूँ। इसी ज्ञान से में सदैव पवित्र रहता हूँ।

    कहते हैं की शिव सदैव उनके साथ चलते हैं जो भगवद गीता पढ़ते हो।

    जय शिव जय पार्वती माँ

    Download Image
    |7|0