Loading...

  • क्या माँगें ईश्वर से?

    Deven rathore

    एक बार सन्त से उसके बेटे ने पूछा- ‘अगर मालिक ने फरमाया कि कोई चीज मांग, तो मैं क्या मांगूं?’’सन्त ने कहा- ‘‘परमार्थ का धन। बेटे ने फिर पूछा- ‘‘अगर मालिक और चीज मांगने को कहे तो?’ सन्त ने कहा- ‘‘पसीने की कमाई मांगना।’’ उसने फिर पूछा- ‘‘तीसरी चीज?’’ जवाब मिला- ‘‘उदारता।’’ ‘चौथी चीज क्या मांगूं?’’ ‘शर्म।’’ ‘पांचवीं?’’ ‘अच्छा स्वभाव।’’ बेटे ने फिर पूछा- ‘‘और कुछ मांगने को कहे तो?’’ संत ने उत्तर दिया- ‘‘बेटा जिसे ये 5 चीजें मिल गईं उसे और मांगने के लिए कुछ भी नहीं बचेगा। खुशहाली का यही रास्ता है और तुझे भी इसी रास्ते से जाना चाहिए।’’ यही सत्य है, ईश्वर से वही चीज़ माँगी जानी चाहिये जो उस से माँगे जाने के लायक है धन-सुख-साधन इत्यादि तो कमाए जाने की चीज़ें हैं माँगी जाने की नहीं।

    जय जय श्री राधे

    Download Image
    |19|1